Safed film review सफ़ेद कपड़ो में लिपटी हुई समाज की हक़ीक़त बया करने वाली कहानी

Social Share

Safed film review :दोस्तो आज हम बात करेंगे फिल्म सफेद के बारे में जो की ३० दिसंबर २०२३ को OTT के Zee5 प्लेटफार्म पर रिलीज़ की गई है ।
इस फिल्म को संदीप सिंह ने डायरेक्ट किया है जो की इससे पहले नरेंद्र मोदी जैसी फिल्में बना चुके है।किन्नर और विधवा इन्ही सब मुद्दों को उजागर करती है फिल्म सफ़ेद

Safeed film review

दोस्तों सफ़ेद फिल्म में दिखाया गया है के हमारे समाज में किन्नरों और विधिवा महिलाओ को किस नज़रिये से देखा जाता है क्या क्या दुःख और तकलीफे झेलना होती है किन पीड़ाओं से हो कर गुजरना होता है किन्नर जो दूसरे को दुवाये और खुश रहने की मनोकामना करते है उनकी खुद की ज़िंदगी में कितने दुःख और तकलीफे होती है

Safeed film review

__Safed film review

वही हाल हमारे सामज की विधवा औरतो का भी है विधवा औरतो को भी समाज से अलग कर दिया जाता है उनको सफ़ेद कपडे पहनना होते है सादा खाना खाना होता है शादी पार्टियों में नहीं जाना होता है किसी अच्छे काम की शुरवात विधवा औरतो के हाथ से नहीं करवाई जाती है अनेक प्रकार की प्रॉब्लम को फेस करना पड़ता है कुछ इन्ही दुःख तकलीफो की कहानी है सफ़ेद।

Safeed film review

__Safed film review

कास्ट- अभय वर्मा, मीरा चोपड़ा ।

कहानी- सफेद फिल्म किन्नरों पर आधारित एक ऐसे फिल्म है जिसमे उन लोगो के जीवन के बारे में बताने की कोशिश की गई है।

Safeed film review

Safed film review

और किस तरह से हमारा समाज उन्हें स्वीकार नही करता है , फिर भी वे समाज में खुशियां बाटने का काम करते हैं और बधाईयां बांटते हैं।इसी तरह से इस फिल्म की शुरुवात वाराणसी के घाट से होती है जहां काली (मिरा चोपड़ा) को दिखाया जाता है जो की विधवा हो चुकी होती हैं और उन्हें आश्रम भेज दिया जाता है। वहीं दूसरी ओर चांदी (अभय वर्मा ) दुनिया के तानों से तंग आकर आत्महत्या करने के लिए आता है और वही पर दोनो की मुलाकात होती है और इसी तरह फिल्म आगे बढ़ती है । फिल्म में ज्यादा तड़का डालने की कोशिश नही की गई कहानी को सिंपल तरीके से और अच्छे से दिखाया गया है।

कथानक-

इस फिल्म का स्क्रीनप्ले न बहुत ज्यादा ढीला है और ना ही बहुत तगड़ा है । मेरे हिसाब से यह ठिक ठाक है,
जो की हमे उस तरह से सिचुएशन को फील नही करवा पाता, जिससे की आप रो पड़े पर फिल्म बहुत छोटी है मात्र ९० मिनट जिससे की आप बोर भी नही होते है।

Safeed film review

__Safed film review

अभिनय-

इस फिल्म के कलाकारों के अभिनय की बात करें तो सबने अपने रोल को ठीक ठाक तरीके से निभाया है,फिल्म में जमील खान भी हैं जिनको आपने इससे पहले सोनी लीव की वेब सीरीज गुल्लक में जरूर देखा होगा जो की संतोष मिश्रा के कैरेक्टर में दिखाई देते हैं। इन्होंने भी अपने रोल को बहुत अच्छे से निभाया है हालाकि इस फिल्म में ज्यादा कुछ करने को था नही पर फिर भी उन्होंने अपने रोल को अच्छे से निभाया है।

Safeed film review

__Safed film review

हम Telcup.com इस फिल्म को देते हैं ३ स्टार।

read more

Best dance number of 2023:2023 का कौनसा हूकस्टेप है आपका फेवरेट जो आपको थिरकने पर मजबूर कर दे

__Safed film review

Author

    by
  • Taxak

    हैलो दोस्तों,मेरा नाम तक्षक है मै एक प्रोफेशनल बॉलीवुड न्यूज़ ब्लॉगर हूँ मैंने अपनी कार्यशैली को बॉलीवुड के लिए ही समर्पित कर दी है मुझे बॉलीवुड से बहुत प्रेम है मुझे फिल्मे देखना काफी अच्छा लगता है और मै अधिकतर यही कोशिश करता हूँ के फिल्मो को फस्ट डे फ़स्ट शो ही देखूँ मुझे बॉलीवुड से सम्बंधित खबर अपने पाठको तक पहुंचना बहुत पसंद है मेरा यही प्रयास रहता है के सबसे पहले बॉलीवुड की कोई भी छोटी से छोटी खबर हो आप तक पहुँचाना धन्यवाद

Leave a Comment