Ustad Rashid Khan संगीत का सफर : पूरा जीवन संगीत के नाम करने वाले उस्ताद का सेहत ने नही दिया साथ

Social Share

Ustad Rashid Khan:भारतीय सिनेमा जगत मे एक बहुत ही मशहूर हस्ती Ustad Rashid Khan ने आज कोलकाता के एक अस्पताल मे आखरी सांस ली आपको बता दें की उस्ताद साहब लम्बे समय से कैंसर से ग्रस्त थे और अस्पताल मे इस बीमारी से जंग लड़ रहे थे।

55 साल के उस्ताद राशीद खान ने अपने जीवन काल मे अनगिनत गीतों के जरिये संगीत के छेत्र मे भारी योगदान दिया। इनके गीतों से इनकी एक अमिट छाप लोगों के दिलों पर हमेशा रहेगी। उस्ताद साहब, आओगे जब तुम साजना… जैसा गीत अपने फैंस के लिए छोड़ कर खुद इस दुनिया से रुखसत हो गए। उनके देहांत की खबर से पूरे भारत मे शोक का माहौल है।

1- Ustad Rashid Khan संगीत का सफर,जाने कब और कैसे रखा संगीत की दुनिया में कदम –

भारतीय सिनेमा जगत में एक महान हस्ती जिन्होंने अपना भारी सहयोग सिनेमा जगत को गीतों के माध्यम से दिया। उस्ताद रशीद खान ने उत्तर प्रदेश के बदायूं शहर में जन्म लिया 1 जुलाई 1968 में जन्म लिया और 9 दिसंबर 2024 को कोलकाता शहर में अपनी अंतिम सांसे लीं। अपने जीवन काल में महान कार्यों के लिए पद्म भूषण और पद्मश्री के अलावा और भी कई पुरस्कारों से नवाजा गया। उनके पिता का नाम हमीज़ रेजा खान था।

Ustad Rashid Khan

__Ustad Rashid Khan

2- Ustad Rashid Khan संगीत का सफर, इनके चाचा और नाना का संगीत से था पुराना रिश्ता-

आपको बता दे की उस्ताद रशीद खान की गायन प्रतिभा को पहचानने वाले पहले शख्स उनके चाचा थे जिनका नाम उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान था। जब घर के लोगों को पता चला कि उस्ताद साहब का इंटरेस्ट संगीत में है तो सब बहुत खुश हुए और प्रारंभिक प्रशिक्षण उनके नाना उस्ताद निसार हुसैन खान ने खुद शुरुआत किया जो खुद एक अच्छे संगीतकार थे।

चाचा और नाना के प्रशिक्षण के बाद मात्र 11 साल की उम्र मे पहला शो मुंबई मे दिया।पूरे एक साल बाद 1978 मे दिल्ली मे होने वाले ITC म्यूजिक समारोह का हिस्सा बने और अपने टैलेंट से लोगों को रूबरू कराया।उसके बाद उस्ताद रशीद खान अपने नाना उस्ताद निसार खान के साथ क़लकत्ता जाकर बस गए और 14 साल की उम्र मे आईटीसी म्यूजिक रिसर्च अकादमी का हिस्सा बने।

3- Ustad Rashid Khan संगीत का सफर,जानते है इनके मशहूर गीतों की सूची –

आओगे जब तुम साजना
अलबेला सजन आयो रै
पूरे से ज़रा कम है
दुआ कीजिये
भोर भयो साजना
तेरे बाद फिर किसीसे
ज़िंदा रह के क्या करू
औ हमनशी
याद पिया की आये
सावन की बूँदे
तुझे याद करते करते
तू मिलता है मुझे
धडकने मेरी
बोल के लब आज़ाद है
आये भरा बदरा

READ MORE

शाहरुख खान करेंगे हैदर,ओमकारा फिल्म के डायरेक्टर के साथ काम Shah Rukh Khan Vishal Bhardwaj Upcoming Project

Author

    by
  • Taxak

    हैलो दोस्तों,मेरा नाम तक्षक है मै एक प्रोफेशनल बॉलीवुड न्यूज़ ब्लॉगर हूँ मैंने अपनी कार्यशैली को बॉलीवुड के लिए ही समर्पित कर दी है मुझे बॉलीवुड से बहुत प्रेम है मुझे फिल्मे देखना काफी अच्छा लगता है और मै अधिकतर यही कोशिश करता हूँ के फिल्मो को फस्ट डे फ़स्ट शो ही देखूँ मुझे बॉलीवुड से सम्बंधित खबर अपने पाठको तक पहुंचना बहुत पसंद है मेरा यही प्रयास रहता है के सबसे पहले बॉलीवुड की कोई भी छोटी से छोटी खबर हो आप तक पहुँचाना धन्यवाद

Leave a Comment