abhishek bachchan :इतना बुरा वक़्त भी भगवान किसी को न दिखाए

Social Share

abhishek bachchan:हालिया दिए गए बयांन एक सम्मेलन में अभिषेक बच्चन ने इस बात का खुलासा किया के जब वो बड़े हुए और फिल्मो में काम करना चाहा तब उनको कोई भी प्रोडूसर लेना नहीं चाहता था अभिषेक आगे बताते है के वो बहुत से प्रोडूसर के पास गए पर सबने साफ मना कर दिया और सबने यही कहा के हम आपको अभी के टाइम पर नहीं ले सकते है अभिषेक ने अपनी ज़िंदगी से जुड़े हुए बहुत से किस्सों के बारे में विस्तार से बताया आइये जानते है गैलाट्टा प्लस सम्मलेन में उन्होंने किया क्या कहा।

abhishek bachchan

__abhishek bachchan

abhishek bachchan की पहली फिल्म की स्क्रिप्ट फाड़ दी थी अमिताभ बच्चन ने

अभिषेक बच्चन अपनी जवानी के किस्से को बयां करते हुए बताते है के जब मुझे कोई भी प्रोडूसर लेने को तैयार नहीं था तब राकेश ॐ प्रकाश मेहरा जो मेरे दोस्त भी थे एक पीरियड फिल्म को बना रहे थे उस फिल्म के लिए मुझे कास्ट कर लिया गया था इस फिल्म का नाम था समझौता एक्सप्रेस और इस फिल्म के लिए अभिषेक बच्चन ने अपने अपनी दाढ़ी और मुछे बाल सबको बड़े कर लिए थे पर दिक्कत एक थी

इस फिल्म के लिए (समझौता एक्सप्रेस) को कोई प्रोडूसर नहीं मिल पा रहा था अब अभिषेक और राकेश जी अमिताभ के प्रोडक्शन कम्पनी में अपनी फिल्म लेकर पहुंचे उस समय पर उनकी प्रोडक्शन कम्पनी की हालत बहुत बुरी हो चुकी थी अमिताभ बच्चन ने इस फिल्म की स्क्रिप्ट को सुना और स्किप्ट सुनने के बाद मौन बैठे रहे कुछ देर बाद उन्होंने कहा के लड़को ये एक दम बकवास कहानी है और हमारी कहानी रिजेक्ट कर दी गयी थी राकेश भी उदास होकर चला गया तब हमारा मनोबल टूट गया था ।

abhishek bachchan फिल्म फेयर के अवार्ड में अपनी बहन की बारात की शेरवानी पहन कर पहुंच गए

अभिषेक बच्चन बताते है के वो दिन हमारे लिए बहुत बुरे चल रहे थे उन दिनों में हम ज्यादा कपडे नहीं खरीदते थे जो थे उन्ही से काम चलाया करते थे मेरा मनो बल बढ़ाने के लिए पापा ने कहा चलो मेरे साथ फिल्म फेयर अवार्ड में अब मेरे पास तो कपडे भी नहीं थे अवार्ड में पहनने के लायक और इस टाइम पर किसी के पास होते भी नहीं थे अच्छे कपडे जो मांग लेता मैंने सोचा जींस और टीशर्ट में जाना तो ठीक नहीं होगा फिर मैंने अपनी बहन की शादी में एक शेरवानी बनवाई थी उस शेरवानी को पहन कर फिल्म फेयर अवार्ड में चला गया वो बात आज भी सोच कर मुझे मज़ा आता है।

उसी अवार्ड शो में मिली abhishek bachchan को उनकी पहली फिल्म

अभिषेक आगे बात करते हुए बोलते है के उस फिल्म फेयर अवार्ड में जे पी दत्ता को बॉर्डर फिल्म के लिए अवार्ड मिला था जे पी दत्ता ने अभिषेक बच्चन को शेरवानी पहने हुए देखा और अपनी अगली फिल्म में लेने का मन बना लिया पर दुर्भाग्य वश वो फिल्म बन ना सकी मेरा हौसला और टूटता जा रहा था तब आखिर में जे पी दत्ता ने ही अपनी अगली फिल्म रिफ्यूजी का एलान किया जिस फिल्म में मुझे कास्ट कर लिया गया।

abhishek bachchan की पहली फिल्म रिफ्यूजी थी

अभिषेक बच्चन की पहली फिल्म थी रिफ्यूजी इस फिल्म में उन के साथ थी करीना कपूर और सुनील शेट्टी फिल्म को डायरेक्ट कर रहे थे जे पी दत्ता फिल्म की स्टोरी हिंदुस्तान पाकिस्तान बॉर्डर पर बने एक छोटे से गांव की थी इस फिल्म की शूटिंग भुज में की गयी थी फिल्म का बजट था 15 करोड़ और इस फिल्म ने 35 करोड़ रूपये की कमाई करी थी

कमाई के मामले में अगर देखे तो ये फिल्म हिट रही पर अभिषेक बच्चन को इस फिल्म से कोई ज्यादा फायदा नहीं हुआ उनको इस फिल्म से पहचान तो मिली पर काम नहीं मिला क्या आप जानते है के अभिषेक और करिश्मा कपूर की सगाई हो गई थी पर ये सगाई टूट गयी थी क्यों टूटी थी इसका कारण किसी को भी पता नहीं चल सका मीडिया ने खूब स्टोरी चलाई पर बाद में पता चला ये इनका निजी मामला था जिस वजह से दोनों ने आपसी सहमति से सगाई को तोड़ दिया।

read more

pakistani film joyland hindi:जिसने पूरे पाकिस्तान को हिला दिया था

Author

    by
  • Taxak

    हैलो दोस्तों,मेरा नाम तक्षक है मै एक प्रोफेशनल बॉलीवुड न्यूज़ ब्लॉगर हूँ मैंने अपनी कार्यशैली को बॉलीवुड के लिए ही समर्पित कर दी है मुझे बॉलीवुड से बहुत प्रेम है मुझे फिल्मे देखना काफी अच्छा लगता है और मै अधिकतर यही कोशिश करता हूँ के फिल्मो को फस्ट डे फ़स्ट शो ही देखूँ मुझे बॉलीवुड से सम्बंधित खबर अपने पाठको तक पहुंचना बहुत पसंद है मेरा यही प्रयास रहता है के सबसे पहले बॉलीवुड की कोई भी छोटी से छोटी खबर हो आप तक पहुँचाना धन्यवाद

Leave a Comment