Aftab Shivdasani के जीवन की सच्चाई जिसे आज तक कोई नही जान पाया

Social Share

Aftab Shivdasani:कपूर खानदान के करीबी होने के बाद भी आखिर क्यों लिया बॉलीवुड से सन्यास –

आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे बॉलीवुड के एक ऐसे अभिनेता के बारे मे जिसने अपने जीवन के ज़ादातर हिस्से मेे स्ट्रगल ही किया है उसके बाद जाकर कामयाबी तो मिली लेकिन किसी फ़िल्म मे मुख्य भूमिका को निभाने का मौका नही मिला इस कलाकार ने अपने फ़िल्मी करियर मे शुरुआती 50 फिल्मे मे सिर्फ सपोर्टिंग एक्टर की तरह ही काम किया है लीड रोल के इंतजार मे।

कपूर खानदान का करीबी होने के बाद भी बॉलीवुड के इस खूबसूरत अभिनेता को बहुत सारे स्ट्रगल का सामना करना पड़ा तब जाकर कुछ नाम हुआ इस अभिनेता का।भारतीय सिनेमा जगत के इस दिग्गज को कई ऐसी फिल्मे तो मिली जो कामयाब फिल्मों मे गिनी जाती है और दर्शकों का खूब प्यार मिला लेकिन इस अभिनेता को एक कामयाब इंसान बनाने मे सफल नही रहीं ये फिल्मे। हम बात कर रहे है Aftab Shivdasani की,आज इस आर्टिकल मे हम जानेगे के आखिर क्यों इस खूबसूरत अभिनेता की जिंदगी इतनी उतार चढ़ाओ भरी रही –

 Aftab Shivdasani

__Aftab Shivdasani instagram pic

1- Aftab Shivdasani कभी हुआ करते थे जॉन अब्राहम और डिनो मौर्या के कम्पटीटर –

1- Aftab Shivdasani कभी हुआ करते थे जॉन अब्राहम और डिनो मौर्या के कम्पटीटर –

Aftab को अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत करने के लिए पहला मौका अनिल कपूर और श्रीदेवी की फ़िल्म जो 1987 मे आई थी Mr. India से मिला इसमें इन्होने एक बाल कलाकार का रोल निभाया था जो फ़िल्म तो अपने टाइम की सुपर हिट फ़िल्म थी और इस बाल कलाकार पर भी सबका ध्यान था इसके बाद इन्हे एक के बाद एक फिल्मे बाल कलाकार के रूपये मे ही मिलती रहीं जिनमे शहनशाह,चलबाज़,अव्वल नंबर,सीडर इंसानियत जैसी सुपर हिट फिल्मे शामिल है। इन सभी रोल मे इस कलाकार ने अपना श्रेष्ठ दिया और डायरेक्टर्स और प्रोडूसर्स का ध्यान अपनी और आकर्षित किया।

 Aftab Shivdasani

__ Aftab Shivdasani instagram pic

3- Aftab Shivdasani को Mast फ़िल्म मे लीड रोल उर्मिला की बहन के कहने पर मिला –

199 मे रामगोपाल वर्मा को अपनी फ़िल्म mast जिसकी हीरोइन थी उर्मिला उनके लिए हीरो की तलाश थी लेकिन लगभग 40 लोगों का ऑडिशन लेने के बाद भी रामगोपाल वर्मा को वो नही मिला जिसकी उन्हें तलाश थी फिर उर्मिला की बहन ने उन्हें आफताब शिवदसानी के कॉमर्शियल वीडियो दिखाया जिन्हे देखने के बाद राम गोपाल वर्मा जी ने तुरन्त आफताब को मिलने के लिये कहा और एक सीन करके दिखाने को कहा जिसको देखने के बाद रामगोपाल वर्मा ने इन्हे अपनी फ़िल्म का हीरो चुन लिया। बॉक्स ऑफिस पर ये फ़िल्म कुछ जादा कामयाब नही रहीं लेकिन आफताब को बेस्ट डेब्यू के लिए अवार्ड मिला।

4- Aftab Shivdasani ने 2000 मे कसूर फ़िल्म मे नेगेटिव रोल के लिए अपने नाम किया बेस्ट नेगेटिव रोल अवार्ड –

आफताब ने अपने करियर मे बहुत सारे नेगेटिव रोल किये लेकिन कसूर फ़िल्म के दमदार नेगेटिव रोल के लिए इन्हे बेस्ट नेगेटिव एक्टर ( विलेन ) के अवार्ड से सम्मानित किया गया और इसके बाद इनके पास एक के बाद एक फिल्मों के ऑफर तो आते गए लेकिन ये सभी फिल्मे मल्टी स्टारर फिल्मे थी जैसे मुस्कान, आवारा पागल दीवाना, हंगामा,क्या यही प्यार है,प्यार इश्क और मोहब्बत,जानी दुश्मन, प्यासा, डरना मना है,फुट पाथ और मस्ती आदि।

5- Aftab Shivdasani के करियर की मल्टी स्टारर फ़िल्म की लिस्ट –

1920
Players
De taali
Money hai to honey hai
Aloo chaat
Daddy cool
Shadi se phle
Ankahi
Kambakht Ishq
Grand Masti
Great grand masti
Kya cool hain hum
Shetters

आदि इनके करियर की ज़ादातर फिल्मे मल्टी स्टारर ही थी और शायद यही वजह रहीं होगी बॉलीवुड से इनकी दूरियों को बढ़ाने की क्युकी इन सभी फिल्मों मे इनके लगभग एक जैसे ही रोल होते थे तो शायद दर्शकों को कुछ नया या अलग सा देने मे नाकामयाब रहे आफताब शिवदसानी और यही कारण रहा बॉलीवुड मे इस अभिनेता की नाकामयाबी का।

 Aftab Shivdasani

__ Aftab Shivdasani instgram pic

6- Aftab Shivdasani का कपूर्स के साथ क्या है रिश्ता?-

दरअसल एक्ट्रेस साधना और बबिता के पिता हरी शिवदसानी दो सगे भाई थे तो इस प्रकार साधना करिश्मा और करीना की मासी हुई क्यूंकि इनकी माँ बबिता है और आफताब एक्ट्रेस बबिता के भतीजे है तो ये करीना और करिश्मा के ममेरे भाई भी है। तो इस प्रकार आफताब का कपूर्स के साथ पुराना और घरा रिश्ता है। आफताब एक अच्छे और खूबसूरत एक्टर होने के बाद भी कुछ जादा कामयाबी नही पासके फ़िल्मी दुनिया मे।

read more

स्विट्ज़रलैंड का ये कराटे चैम्पियन है फाइटर फिल्म का विलेन:Birol Tarkan Yildiz Fighter Movie Villain

Author

    by
  • Arslan khan

    हेलो दोस्तों मेरा नाम अरसलान खान है मैने अपनी ब्लॉगिंग की शुरवात न्यूज़ वेबसाइट से की थी अभी के टाइम पर मै कई मीडिया संस्थानों के साथ जुड़ा हुवा हूँ और अपनी सेवाएं उन्हें प्रदान कर रहा हूँ उनमे से एक talecup.com है मै Talecup.com हिंदी इंग्लिश तमिल तेलगु मलयालम फिल्मो का रिव्यु लिखता हूँ आशा करता हूँ के मेरे द्वारा दिए गए रिव्यु से आप सभी लोग संतुष्ट होते होंगे धन्यवाद

Leave a Comment